Bewafa Shayari

Bewafa Shayari, Jhuki palko se unka

झुकी पलकों^ से उनका दीदार किया था,
सब कुछ भुला के उनका इंतज़ार किया था,
वो जान^ ही न पाये जज़्बात कभी,
जिन्हें दुनिया में सबसे ज्यादा प्यार किया था.

Touching Bewafai Shayari in Hindi and English Font

Touching Bewafai Shayari in Hindi and English Font

Jhuki palko^ se unka deedar kiya tha,
Sab kuch bhula ke unka intezar kiya tha,
Wo jaan^ hi na paye jazbat kabhi,
Jinhe duniya me sabse jyada pyar kiya tha.

हसीनों ने हसीन बन कर गुनाह^ किया,
औरों को तो क्या हमको भी तबाह किया,
पेश किया जब ग़ज़लों^ में हमने उनकी बेवफाई को,
औरों ने तो क्या उन्होंने भी वाह वाह किया।

Haseeno Ne Haseen Bankar Gunah^ Kiya,
Auro Ko To Kya Hamko Bhi Tabah Kiya,
Pesh Kiya Jab Gazlon^ Mein Hamne Unki Bewafai Ko,
Auron Ne To Kya Unhone Bhi Waah Waah Kiya.

ना वो सपना^ देखो जो टूट जाये,
ना वो हाथ थामो जो छुट जाये,
मत^ आने दो किसी को करीब इतना,
कि उससे दूर जाने से इंसान^ खुद से रूठ जाये|

Na vo sapna^ dekho jo tut jaye,
Na vo haath thamo jo chhuth jaye,
Maut^ aane do kisi ko karib itna,
Ki usse dur jane se insaan^ khud se ruth jaye.

Back to top button